उड़ी-उडी रे पतंग मेरी उड़ी रे,चली खाटू की ओर,खींचे खाटूवाला डोर उडी-उडी रे .... यह पतंग है भक्ती भावों की,छल कपट नहीं दावों की यह पतंग है भक्ती भावों की,छल कपट नहीं दावों की श्री श्याम की दिवानी,देखो चाल मस्तानी श्री श्याम की दिवानी,देखो चा