अपने भक्तों की ये सुनता है पुकार देखलो, मेरे खाटुवाले श्याम का सांचा दरबार देखलो.. मोरमुकुट और कुंडल धारी, बाबा की छवि अति प्यारी, गले में सजता हार गुलाबी और बाबा की शान नवाबी.. नित्य नया साँवरे का श्रृंगार देखलो, मेरे खाटुवाले श्याम का सांचा दर